RIL का कमाल, ऐसा करने वाली देश की इकलौती प्राइवेट कंपनी बनी, मुकेश अंबानी बोले – धन्यवाद

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) का नेट प्रॉफिट दिसंबर 2018 को समाप्त तिमाही के दौरान 7.72 प्रतिशत बढ़कर 10251 करोड़ रुपये हो गया है.

0
38

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) का नेट प्रॉफिट दिसंबर 2018 को समाप्त तिमाही के दौरान 7.72 प्रतिशत बढ़कर 10251 करोड़ रुपये हो गया है. इसके साथ RIL किसी एक तिमाही में 10000 करोड़ से अधिक का शुद्ध मुनाफा कमाने वाली भारत की निजी क्षेत्र की पहली कंपनी बन गई है. दिसंबर 2017 को समाप्त तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 9420 करोड़ रुपये था. रिलायंस के ये नतीजे बाजार के पूर्वानुमानों से बेहतर है. ज्यादातर विश्लेषक मान रहे थे कि कंपनी का नेट प्रॉफिट 9500 के आसपास रहेगा.

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने एक बयान में कहा, ‘हमारी कोशिश रही है कि अपने देश और शेयरधारकों के लिए लगातार अधिक से अधिक वैल्यु क्रियेट करें. हमारी कंपनी भारत में निजी क्षेत्र की पहली कंपनी बन गई है, जिसने किसी तिमाही में नेट प्रॉफिट के तौर पर 10000 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार किया है. हमारी विकास यात्रा में ऐसे कई मील के पत्थर हासिल करने में मदद करने वाली रिलायंस की प्रतिबद्ध और प्रतिभावान टीम का हिस्सा होने की मुझे खुशी है.’

वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंसोलिडेटेड आय में 9.1 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है. तिमाही आधार पर कंसोलिडेटेड आय 1.43 करोड़ रुपए बढ़कर 1.56 लाख करोड़ रुपए रही है. तिमाही आधार पर तीसरी तिमाही में कंपनी कंसोलिडेटेड एबिटडा 21,108 करोड़ रुपए से बढ़कर 21,317 करोड़ रुपए रहा है. हालांकि, मार्जिन में थोड़ी गिरावट देखने को मिली है. कंसोलिडेटेड एबिटडा मार्जिन 14.7 फीसदी से घटकर 13.6 फीसदी रहा है.

  छोटे कारोबारियों को नए साल पर मोदी सरकार का तोहफा, 40 लाख तक टर्नओवर वाले नहीं होंगे जीएसटी में शामिल
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here