सैयद शुजा हो सकता है ISIS आतंकी, PAK एजेंट; ईवीएम हैकिंग पर बोले गिर‍िराज सिंह

Giriraj Singh questions Syed Shuja: केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का कहना है कि ईवीएम हैकिंग का दावा करने वाला स्‍वयंभू साइबर विशेषज्ञ सैयद शुजा पाकिस्‍तान का एजेंट या आईएस आतंकी हो सकता है।

0
26

नई दिल्‍ली: ईवीएम हैकिंग को लेकर आरोप-प्रत्‍यारोप के बीच केंद्रीय मंत्री गिर‍िराज सिंह ने इसे लेकर बड़ा सवाल किया है। उन्‍होंने स्‍वयंभू साइबर विशेषज्ञ सैयद शुजा को लेकर सवाल उठाए हैं और आशंका जताई कि उसका संबंध पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (ISI) या आतंकी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट (ISIS) से हो सकता है।

गिरिराज ने मंगलवार को ट्वीट कर इस मामले में कांग्रेस के ख‍िलाफ भी हमला बोला, जो इसे लेकर बीजेपी के खिलाफ हमलावर तेवर अपनाए हुए है। उन्‍होंने 2014 के चुनाव में धांधली और ईवीएम हैकिंग का कथित दावा करने वाले लंदन में हुए प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता कपिल सिब्‍बल की मौजूदगी को लेकर भी सवाल किए और कहा कि यह दर्शाता है कि पाकिस्‍तान और चीन का एजेंडा शीर्ष कांग्रेस नेता की देखरेख में प्रायोजित हुआ। उन्‍होंने यह भी कहा कि कांग्रेस सत्ता से बाहर होने के बाद से ही देश में लोकतंत्र को खत्म कर देना चाहती है, जैसा कि वह इमरजेंसी के दौरान भी कर चुकी है।

उन्‍होंने सैयद शुजा को लेकर भी सवाल किए और कहा, वह ISIS या ISI का आदमी हो सकता है। उन्‍होंने शुजा के दावों और इस संबंध में कांग्रेस के आरोपों को ‘ईवीएम ड्रामा’ करार देते हुए कांग्रेस के दिवंगत नेता व कभी पार्टी के अध्‍यक्ष रहे सीताराम केसरी का भी जिक्र किया और कहा कि वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता ने उनसे कभी कहा था कि एक परिवार पूरे देश को तबाह कर देगा। उन्‍होंने कहा कि शुजा पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई या आतंकी संगठन आईएसआईएस से संबद्ध हो सकता है, जिसका मकसद भारत में लोकतंत्र को कमजोर करना हो सकता है।

  कर्नाटक के नाटक का पटाक्षेप: विधायकों से येदियुरप्पा बोले - ऑपरेशन लोटस स्थगित, कुमारस्वामी को राहत

यहां उल्‍लेखनीय है कि सैयद शुजा ने सोमवार को यह सनसनीखेज खुलासा किया था कि बीजेपी ने 2014 का राष्‍ट्रपति ईवीएम में छेड़छाड़ कर जीता था और बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे की हत्‍या भी इसलिए करवा दी गई थी, क्‍योंकि उन्‍हें ईवीएम हैकिंग के बारे में पता था। हालांकि उन्‍होंने अपने दावों के संबंध में कोई पुख्‍ता सबूत पेश नहीं किए।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here