केजरीवाल के खिलाफ दर्ज होगी FIR, राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का मामला

कोर्ट ने आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के खिलाफ एफआईआर की अनुमति 5 साल पुराने मामले में दी है। याचिकाकर्ता के अनुसार 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान केजरीवाल सहित AAP के कार्यकर्ताओं ने चुनाव चिह्न झाड़ू को तिरंगे के साथ साथ में लहराया था। यह तिरंगे का अपमान है।

0
36
सीएम अरविंद केजरीवाल
  • 2014 लोकसभा चुनावों के दौरान राष्ट्रीय ध्वज के अपमान से जुड़ा है मामला
  • याचिकाकर्ता के अनुसार AAP के चुनाव चिह्न झाड़ू के साथ लहराया था तिरंगा
  • कोर्ट ने मामले में सीएम केजरीवाल तथा AAP वर्कर्स के खिलाफ FIR की अनुमति दी

सागर: मध्य प्रदेश के सागर जिले की एक अदालत ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तथा आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ कथित तौर पर राष्ट्रीय ध्वज के अपमान के मामले में एफआईआर दर्ज करने की अनुमति दे दी है।

कोर्ट ने आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के खिलाफ एफआईआर की अनुमति 5 साल पुराने मामले में दी है। राजेंद्र मिश्र नामक एक व्यक्ति ने कोर्ट में याचिका दायर करते हुए कहा था कि 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान केजरीवाल सहित AAP के कार्यकर्ताओं ने चुनाव चिह्न झाड़ू को तिरंगे के साथ साथ में लहराया था।

याचिकाकर्ता ने झाड़ू के साथ ही तिरंगा लहराने पर इसे राष्ट्रध्वज का अपमान बताया था और कोर्ट में याचिका दायर कर दी थी। कोर्ट ने इस मामले में एफआईआर दर्ज करने की अनुमति दे दी है। अरविंद केजरीवाल तथा AAP कार्यकर्ताओं के खिलाफ अब सागर, बीना, खुरई और दिल्ली में मामले दर्ज किए जाएंगे।

इस मामले में एफआईआर दर्ज होने से दिल्ली की गद्दी पर बैठे अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। फिलहाल केजरीवाल या आम आदमी पार्टी के किसी भी नेता की तरफ से इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

  Lok Sabha Elections 2019: कांग्रेस बनाएगी बेरोजगारी को मुद्दा, रघुराम राजन हो सकते है कांग्रेस में शामिल
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here