दिल्ली/रामलीला मैदान से भाजपा ने फूंका 2019 चुनाव का बिगुल, राम मंदिर, सर्जिकल स्ट्राइक-जनरल कोटा बिल को अमित शाह ने बनाया मुद्दा

BJP National Executive Meeting: भाजपा कार्यकर्ताओं में आत्मविश्वास भरते हुए अमित शाह ने कहा कि PM मोदी के नेतृत्व में BJP एक बार फिर सरकार बनाएगी। पार्टी चाहती है कि राम मंदिर (Ram Mandir) का निर्माण जल्द हो।

0
27

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को दिल्ली के रामलीला मैदान से 2019 का चुनावी बिगुल फूंका। भाजपा अध्यक्ष ने जहां अपने भाषण के जरिए मोदी सरकार की उपलब्धियों की बखान कर देश भर से आए कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाया, वहीं कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। शाह ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण पर भी बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा चाहती है कि राम मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द हो लेकिन कांग्रेस पार्टी मंदिर निर्माण की राह में रोड़ा अटकाती आ रही है।

भाजपा अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं का जोश बढ़ाते हुए कहा कि आगामी 2019 का चुनाव में दो विचारधाराओं का युद्ध होगा। उन्होंने कहा कि आमसभा चुनावों में एनडीए स्पष्ट बहुमत हासिल करेगा और केंद्र में सरकार बनाएगा। दो दिनों तक चलने वाले राष्ट्रीय अधिवेशन का उद्घाटन शाह ने किया जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को समापन भाषण देंगे। आइए जानते हैं अमित शाह की भाषण की प्रमुख बातें-

  1. लोकसभा चुनाव में दो विचारधाराओं की लड़ाई होगी। हमारी पार्टी गरीबों के विकास एवं सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का समर्थन करती है जबकि विरोधी दलों की एकजुटता केवल सत्ता पाने के लिए है। एक समय चुनावी लड़ाई कांग्रेस बनाम सभी राजनीतिक दल की हुआ करती थी। अब यह लड़ाई मोदी बनाम ऑल हो गई है। विपक्षी दल की एकजुटता केवल सत्ता पाने और मोदी को रोकने के लिए है।
  2. संसद में सामान्य वर्ग के लिए आर्थिक आधार पर पारित विधेयक को लेकर अमित शाह ने विपक्ष पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि विपक्ष ने केवल शब्दों से कोटा बिल के प्रति सहानुभूति जताई है। सरकारी नौकरियों एवं शिक्षण संस्थाओं में 10 प्रतिशत आरक्षण देकर मोदी सरकार ने करोड़ों युवाओं के सपने को सच किया है। संसद द्वारा पारित किए गए महत्वपूर्ण विधेयकों में से जनरल कैटेगरी कोटा बिल अहम है।
  3. घुसपैठ की समस्या पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि इस पर रोक लगाने के लिए हमने शुरुआत की। असम की सर्वानंद सोनोवाल की सरकार ने एनआरसी की प्रक्रिया शुरू की। उन्होंने कहा कि एनआरसी के जरिए देश में रहने वाले अवैध लोगों की पहचान की जाएगी। केवल असम में 40 लाख अवैध लोगों की पहचान की गई है।
    सैन्यकर्मियों के लिए ‘वन रैंक वन पेंशन’ का उल्लेख करते हुए शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने उन्हें सम्मान देने का काम किया है। हमारी सरकार ने गोली का जवाब गोले से दिया है। मोदी सरकार ने देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने का काम किया है।
  4. भगोड़े मेहुल चोकसी और नीरव मोदी पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा कि कांग्रेस पूछती है कि ये दोनों देश छोड़कर कैसे भागे? उन्होंने कहा, ‘मैं देश के लोगों को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि चौकीदार किसी भी चोर को नहीं बख्शेगा। हमारे पास काफी सख्त कानून हैं, हम उन्हें पकड़कर वापस लाएंगे।’
  5. सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि दुनिया में अब तक दो ही देश अमेरिका और इजरायल इस कला में माहिर माने जाते थे। लेकिन पीएम मोदी के नेतृत्व में हम भी इस कतार में शामिल हो गए। शाह ने दावा किया कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में भारतीय सेना ने पहली बार अपने जवानों की हत्या का बदला लिया।
  6. भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में 2014 जैसी सफलता दोहराएगा। उन्होंने कहा कि वह प्रदेश यूनिट की नेताओं के साथ लगातार संपर्क में हैं और वह पूरे भरोसे के साथ कह सकते हैं कि इस बार भाजपा यहां 74 सीटें जीत सकती है। यहां इस बार पार्टी को 72 से कम सीटें नहीं मिलेंगी। अमित शाह ने कहा कि दुनिया में कोई भी नेता नरेंद्र मोदी जितना लोकप्रिय नहीं है।
  7. भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन को पीएम मोदी शनिवार को संबोधित करेंगे। समझा जाता है कि मोदी अमित शाह की तरह विपक्ष को निशाने पर लेंगे और कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्धन करेंगे। आज के कार्यक्रम में भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, वित्त मंत्री अरुण जेटली, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पार्टी के नेता मुरली मनोहर जोशी उपस्थित थे।
  दुर्गा पूजा का विसर्जन बंगाल में नहीं तो क्या पाकिस्तान जाकर करें - अमित शाह
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here